Cafe Reminiscence

कंचे

कंचे :(Marbles)

Poem or short story ??  : Whatever … धà¥�नà¥�दला सा याद हे वो लड़का पतला दà¥�बला सा था , उसके बाल हमेशा सामने रहते थे , शायद कंघी करने की जरूरत ही नहीं थी या वो करता होगा लेकिन वो…